हिमालय के ऊंचाई वाले इलाकों में एक नायाब जड़ी मिलती है कीड़ा-जड़ी  जिसका उपयोग भारत में तो नहीं होता लेकिन चीन में इसका इस्तेमाल प्राकृतिक स्टीरॉयड की तरह किया जाता है।  इस जड़ी की यह उपयोगिता देखकर पिथौरागढ़ और धारचूला के इलाक़ों में बड़े पैमाने पर स्थानीय लोग इसका दोहनRead More →

आप शायद ही ये जानते होंगे कि उत्तराखंड में एक ऐसा स्थान भी है, जहां मां दुर्गा साक्षात् प्रकट हुई थीं। देवभूमि का ये स्थान भारत का एकमात्र और दुनिया का तीसरा ऐसा स्थान है, जहां खास चुम्बकीय शक्तियां मौजूद हैं। खुद नासा के वैज्ञानिक भी इस पर शोध करRead More →

बरसात के दिनों में उत्तराखंड में एक सब्जी की डिमांड बढ़ जाती है और वो हैं लिंगड़ा। लिंगड़ा देखने में जितने सुन्दर होते हैं खाने में उतने ही स्वादिष्ट और पौष्टिक होते हैं। लिंगड़ा गाड़-गधेरों के आस-पास पाए जाते हैं। विदेशों में भी इसकी काफी मांग होती है और इसेRead More →

जो लोग उत्तराखण्ड़ के हैं उन्हें तो ये शब्द समझ आ जाएंगे लेकिन अगर आप उत्तराखण्ड़ी बोली नहीं जानते हैं और आप उत्तराखण्ड़ घूमने आ रहे हैं तो आप भी जान लें इन शब्दों का मतलब। उत्तराखण्ड़ में आमतौर पर पहाड़ और घाटी होती है। इसलिए रास्ते भी थोड़े टेड़ेRead More →

बाल मिठाई उत्तराखंड की मशहूर मिठाई है। आपने अगर इसका नाम सुना है या पहले कभी खाया है तो आपको इसके स्वाद के बारे में हमें बताने की जरूरत नहीं है, लेकिन अगर आपने इसे पहले कभी नहीं खाया है तो जान लें इसे घर पर बनाने की आसान विधि।Read More →

होली सैकड़ों वर्षों  से रंग-गुलाल, मस्ती और पकवानों का त्योहार रहा है। उत्तराखंड का संस्कृति सचेतन इलाका कुमाऊं और गढ़वाल-दोनों जगह पवित्र पौधे की डाल लाकर लगाने, पूजने, चीर बांधने-बांटने,बैठी-खड़ी होले का फर्क निभाने और महिलाओं का स्वांग निभाने आदि अनेक ऐसी चीजें हैं जो बहुत ही खास है और होली में गायन  इसेRead More →