होली सैकड़ों वर्षों  से रंग-गुलाल, मस्ती और पकवानों का त्योहार रहा है। उत्तराखंड का संस्कृति सचेतन इलाका कुमाऊं और गढ़वाल-दोनों जगह पवित्र पौधे की डाल लाकर लगाने, पूजने, चीर बांधने-बांटने,बैठी-खड़ी होले का फर्क निभाने और महिलाओं का स्वांग निभाने आदि अनेक ऐसी चीजें हैं जो बहुत ही खास है और होली में गायन  इसेRead More →